22.3 C
New York

Dhiraj Sahu: 353 करोड़ रुपए नकदी की बारामदगी से जुड़े परिसर में चर्चा का माहौल गरम

Published:

बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस सांसद Dhiraj Sahu के पुराने ट्वीट को शेयर किया है और कहा है कि जिसने नोटबंदी पर सवाल उठाया वह खुद काले धन के इस बड़े खजाने का मालिक निकला। इस सिलसिले में हुई 353 करोड़ रुपए की बड़ी बरामदगी से देशभर के राजनीतिक दलों में हड़कंप मच गया है। जबकि काउंटिंग अभी बाकी हैं मेरे दोस्त।

Dhiraj Sahu से विवाद:

कांग्रेस से राज्यसभा सांसद Dhiraj Sahu सवालों के दौर से गुजर रहे हैं। उन्होंने नोटबंदी पर अपने पुराने ट्वीट्स में जवाब दिया और सवाल उठाया कि नोटबंदी के बाद भी लोगों के पास काला धन कैसे है। ऐसे में उनके ट्वीट्स ने उनके किरदार की चर्चा को नए रूप में आगे बढ़ा दिया है।

नकद वसूली: एक बड़ा चुनौतीपूर्ण सत्य

कांग्रेस सांसद के परिसर से बेहिसाब नकदी की बरामदगी ने साहू के चरित्र को एक नए चश्मे से पेश किया है। उनके पुराने ट्वीट्स और नकदी के इस बड़े खुलासे के बीच एक अजीब सा मेल नजर आ रहा है, जिससे व्यक्ति के लिए उचित जवाब देना मुश्किल हो जाता है।

नोटबंदी के समय साहू ने कई सवाल उठाए थे, जो आज उन्हें अपने ही खिलाफ खड़ा कर रहे हैं। एक तरफ नोटबंदी पर उनकी टिप्पणियाँ और दूसरी तरफ उनके परिसर से नकदी की बरामदगी का तथ्य – इन सभी चीजों को एक नए नजरिए से देखा जा रहा है।

चुनौतियों से भरा राजनीतिक क्षेत्र:

आयकर विभाग की छापेमारी में हुई बरामदगी ने राजनीतिक क्षेत्र में नई चुनौती पैदा कर दी है। कांग्रेस ने साहू के व्यवसाय में किसी भी तरह की भागीदारी से इनकार किया है, लेकिन भाजपा नेताओं का कहना है कि उनके पुराने ट्वीट्स ने उनकी विवेकशीलता पर सवाल उठाए हैं।

353 करोड़ रुपये से अधिक नकदी की बरामदगी ने मामले को राजनीतिक समीकरण में बदल दिया है। काउंटिंग शुरू तो हो गयी लेकिन अभी तक समाप्त नहीं हो पायी है। SBI के जिस ब्रांच में यह काउंटिंग की जा रही है वहाँ अन्य सामान्य कार्यो के होने भी आवश्यक है जिस कारण काउंटिंग में समय लग रहा है। SBI के स्टाफ की उम्मीद थी कि काउंटिंग वीकेंड तक समाप्त हो जाएगी। लेकिन अभी भी काउंटिंग जारी है। 24×7 इनकम टेक्स डिपार्टमेंट के स्टाफ में से 80 लोगो की टीम शिफ्ट के हिसाब से काउंटिंग में लगे हुए है।

10 कॅश से भरी अलमारी मिलने के बाद ही 200 लोगो का स्टाफ जिनमे सिक्योरिटी, ड्राइवर्स आदि भी है, लगातार काम पर लगे हुए हैं। 176 बैग कैश अब तक काउंट किया गया है। जोकि 40 मशीनो के द्वारा काउंट किया गया है। 40 मशीने लगातार काम करने के कारण बार-बार गर्म हो रही हैं। बावजूद इसके अभी तक रूपए काउंट नहीं हो पाए हैं।

इस पर Kiren Rijiju ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि “मशीने भी कांग्रेस के भ्रष्टाचार के नोट गिनते गिनते थक गयी हैं !! कांग्रेस पार्टी हमेशा भ्रष्टाचार से क्यों जुड़ी रहती हैं?”

Dhiraj Sahu का वायरल ट्वीट :

Dhiraj Sahu का एक पुराना ट्वीट वायरल हो रहा है जिसमे उन्होंने नोटबंदी के समय कुछ ऐसा लिखा था जोकि आज के Dhiraj Sahu से बिलकुल अलग है। यह ट्वीट Amit Malviya ने अपनी “X” प्रोफाइल (पूर्व नाम Tweeter) पर सांझा किया हैं।

सामाजिक और राजनीतिक प्रभाव:

इस घड़ी में आम जनता के लिए साहू के चरित्र की उत्कृष्टता और योगदान पर सवाल उठाने का समय आ गया है। उनके पुराने ट्वीट्स और कैश की बरामदगी के बाद उनकी जिम्मेदारी और ईमानदारी पर सवाल उठ रहे हैं।

इस अनूठे संघर्ष के बावजूद समझदार नागरिकों को इसे एक बड़े राजनीतिक खेल के रूप में देखना चाहिए और सच्चाई को पहचानने का प्रयास करना चाहिए। राजनीतिक दलों को भी इस दौरान सतर्क रहना चाहिए ताकि उनके सदस्यों के चरित्र और नैतिकता को लेकर संदिग्ध मुद्दे उजागर हो सकें।

Rajat Kumar
Rajat Kumarhttps://aiinnovatorz.com
I am Rajat Kumar. I am a content writer from Uttar Pradesh, India. I also have a YouTube channel where I give tutorials on AI tools. I have been working as a video and content creator for 2 years.

Related articles

Recent articles

spot_img